क़यामत क्या है

क़यामत क्या है

क़यामत क्या है ?
क़यामत यानि, जिस दिन दुनिया का अंत होगा।

इस्लाम धर्म के कुछ लोग यह मानते है कि “क़यामत के दिन उनका अल्लाह उनका साथ देगा, दूसरे धर्म वाले काफिर है और उनका भगवान उनको अकेले तड़पते छोड़ देंगे, इसलिए अल्लाह की राह पे चले।

मैं उन सभी लोगो से पूछना चाहता हूँ कि “आपको कैसे पता दुनिया का अंत होगा” ?

क़यामत क्या है

आप से पहले हज़ारो सालो से लोगो को ऐसी गुमराह की गयी होगी, लोग पूरी ज़िन्दगी अपने आप को क़यामत के दिन के लिए तैयार किया होगा, कुछ लोग इसके लिए जिहाद भी किया होगा, निर्दोष लोगो को भी मारा होगा, अंत में उनका निधन हो गया होगा, पर क़यामत न आया । फिर उनके बच्चो ने भी यही सोच के साथ जिया होगा, खुद को क़यामत के लिए तैयार किया होगा और अंत में उनकी भी मृत्यु हो गयी होगी पर क़यामत न आया।

तो फिर सचाई क्या हैं ? कैसे हमें जीना चाहिए ?

इसे समझने के लिए मैं आपको एक कहानी सुनाता हूँ –

एक बार बुद्ध वन से जा रहे थे, वहाँ वन में उनकी मुलाकात डाकू अंगुलिमाल से हुई, तो अंगुलिमाल ने उनसे कहा मैं तुम्हारी उँगलियाँ काटकर अपने गले का माला बनाऊँगा, तब बुद्ध ने कहा “मैं खुद तुम्हे अपनी उँगलियाँ दे दूँगा पर तुम्हे मेरे दो शर्त मानने होंगे”। अंगुलिमाल मान गया –
बुद्ध बोले, पहली – दूर पेड़ से एक डाली तोड़कर ले आओं, अंगुलिमाल गया और डाली तोड़कर ले आया।
अंगुलिमाल ने पूछा,और दूसरी शर्त ? बुद्ध ने कहा, “वापस जोड़ आओं”।
अंगुलिमाल बोले पागल हो गए हो क्या ? वापस कैसे जोड़ सकते है तोड़े हुए चीज़ ?
बुद्ध बोले, बस यही बात समझाना चाहता था कि तोडना बहुत आसान है, पर जोड़ना बहुत मुश्किल।
अंगुलिमाल समझ गया और डकैती छोड़ बुद्ध का शिष्य बन गया।

कहने का तात्पर्य यह है कि जीवन अनमोल है, इसकी कदर करे और इसे सच्चाई से जीने का प्रयास करे, न कि क़यामत के भय से जिए।

जरा सोचिये उन तमाम लोगो के बारे में जिनको यह सिखाया गया था होगा, उनकी ज़िन्दगी बीत गयी पर क़यामत न आया।

Please do consider to contribute ): consider donating

8 comments

  1. I have been surfing online more than 3 hours today yet I never found any interesting article like yours It is pretty worth enough for me In my opinion if all web owners and bloggers made good content as you did the web will be much more useful than ever before

  2. What i do not understood is in truth how you are not actually a lot more smartlyliked than you may be now You are very intelligent You realize therefore significantly in the case of this topic produced me individually imagine it from numerous numerous angles Its like men and women dont seem to be fascinated until it is one thing to do with Woman gaga Your own stuffs nice All the time care for it up

  3. Its like you read my mind You appear to know so much about this like you wrote the book in it or something I think that you can do with a few pics to drive the message home a little bit but instead of that this is excellent blog A fantastic read Ill certainly be back

  4. Usually I do not read article on blogs however I would like to say that this writeup very compelled me to take a look at and do so Your writing taste has been amazed me Thanks quite nice post

  5. Hello i think that i saw you visited my weblog so i came to Return the favore Im trying to find things to improve my web siteI suppose its ok to use some of your ideas

  6. I do agree with all the ideas you have introduced on your post They are very convincing and will definitely work Still the posts are very short for newbies May just you please prolong them a little from subsequent time Thank you for the post

  7. Fantastic site Lots of helpful information here I am sending it to some friends ans additionally sharing in delicious And of course thanks for your effort

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *