Tag: मैं जिंदगी हूं

मैं जिंदगी हूं और मैं कुछ थक सा गया हूं

मैं जिंदगी हूं और मैं कुछ थक सा गया हूं; जिस इन्सान को बनाया सर्वशक्तिमन, उसी इन्सान को देखा बिलखकर रोते हुये, सिमटे हुये, दुबके […]

Continue reading